About guru nanak dev in hindi. गुरु नानक देव जी की जीवनी व किस्से 2018-12-26

About guru nanak dev in hindi Rating: 7,4/10 1026 reviews

श्री गुरु नानक देव के 10 अनमोल उपदेश Guru Nanak Dev Ji Teachings in Hindi

about guru nanak dev in hindi

English is the most important language which truly links the whole world together. What are the social purposes of taboo language? I have come to be familiar with this as my mother is a therapist and we have talked about her work and diagnosing people with a variety of mental health disorders. Guru Nanak Dev Ji Essay in Punjabi Language ਸ਼੍ਰੀ ਗੁਰੂ ਨਾਨਕ ਦੇਵ ਜੀ ਸਿਖਾਂ ਦੇ ਪਹਿਲੇ ਗੁਰੂ ਸਨ। ਗੁਰੂ ਨਾਨਕ ਦੇਵ ਜੀ ਦਾ ਜਨਮ 15 ਅਪ੍ਰੈਲ 1469 ਨੂੰ ਰਾਇ ਭੋਇ ਕੀ ਤਲਵੰਡੀ ਵਿਚ ਹੋਇਆ ਸੀ ਜੋ ਅੱਜ ਕਲ ਪਾਕਿਸਤਾਨ ਵਿਚ ਹੈ। ਪਿਤਾ ਜੀ ਦਾ ਨਾਮ ਮਹਿਤਾ ਕਾਲੂ ਜੋ ਪਿੰਡ ਦੇ ਪਟਵਾਰੀ ਸਨ ਅਤੇ ਮਾਤਾ ਜੀ ਦਾ ਨਾਮ ਤ੍ਰਿਪਤਾ ਦੇਵੀ ਸੀ। ਬੀਬੀ ਨਾਨਕੀ ਜੋ ਗੁਰੂ ਨਾਨਕ ਦੇਵ ਜੀ ਦੀ ਭੈਣ ਸੀ। ਗੁਰੂ ਨਾਨਕ ਦੇਵ ਜੀ Guru Nanak Dev Ji ਬਚਪਨ ਤੋਂ ਹੀ ਬੜੇ ਹੀ ਨਿਮਰ ਅਤੇ ਸ਼ਾਂਤ ਸੁਭਾਅ ਦੇ ਮਾਲਿਕ ਸਨ। ਬਹੁਤ ਸਾਰੇ ਵਿਦਵਾਨ ਗੁਰੂ ਜੀ ਦੀ ਬੁੱਧੀ ਦੇਖ ਕੇ ਬਹੁਤ ਪ੍ਰਭਾਵਿਤ ਹੋਏ। ਇੱਕ ਬਾਰ ਮਹਿਤਾ ਕਾਲੂ ਨੇ ਗੁਰੂ ਜੀ ਨੂੰ 20 ਰੁਪਏ ਦਿੱਤੇ ਅਤੇ ਸੌਦਾ ਲਿਉਣ ਲਈ ਕਿਹਾ ਰਸਤੇ ਵਿਚ ਗੁਰੂ ਜੀ ਨੂੰ ਸਾਧੂ ਮਿਲੇ ਜੋ ਕਈ ਦਿਨਾਂ ਤੋਂ ਭੁੱਖੇ ਸਨ ਗੁਰੂ ਜੀ ਨੂੰ ਉਨ੍ਹਾਂ ਨੂੰ ਦੇਖ ਕੇ ਬਹੁਤ ਦੁੱਖ ਹੋਇਆ ਅਤੇ ਗੁਰੂ ਜੀ ਨੇ ਉਨ੍ਹਾਂ 20 ਰੁਪਇਆਂ ਦਾ ਸਾਧੂਆਂ ਨੂੰ ਭੋਜਨ ਕਰਾ ਦਿੱਤਾ। ਜੋ ਸੱਚੇ ਸੌਦੇ ਦੇ ਨਾਮ ਨਾਲ ਜਾਣਿਆ ਜਾਂਦਾ ਹੈ। ਜਵਾਨ ਹੋਣ ਤੇ ਆਪ ਦਾ ਮਨ ਸੰਸਾਰਿਕ ਕੰਮਾਂ ਵਿਚ ਨਹੀਂ ਲੱਗਾ। ਮਹਿਤਾ ਕਾਲੂ ਨੇ ਆਪ ਨੂੰ ਘਰੇਲੂ ਕੰਮਾਂ ਵਿਚ ਖਿੱਚਣ ਲਈ ਆਪ ਦਾ ਵਿਆਹ ਬੀਬੀ ਸੁਲੱਖਣੀ ਨਾਲ ਕਰ ਦਿੱਤਾ। ਵਿਆਹ ਤੋਂ ਬਾਅਦ ਵੀ ਆਪ ਜੀ ਦਾ ਮਨ ਸੰਸਾਰਿਕ ਕੰਮਾਂ ਵਿਚ ਨਹੀਂ ਲੱਗਿਆ । ਅੰਤ ਮਹਿਤਾ ਕਾਲੂ ਨੇ ਆਪ ਨੂੰ ਆਪ ਦੀ ਭੈਣ ਬੀਬੀ ਨਾਨਕੀ ਕੋਲ ਭੇਜ ਦਿੱਤਾ। ਜਿਥੇ ਆਪ ਨੂੰ ਮੋਦੀਖਾਨੇ ਵਿਚ ਨੌਕਰੀ ਮਿਲ ਗਈ। ਜਿਥੇ ਗੁਰੂ ਜੀ ਬਿਨਾਂ ਮੁੱਲ ਦੇ ਸੌਦਾ ਦੇ ਦਿੰਦੇ ਸਨ। ਇਕ ਵਾਰ ਗੁਰੂ ਜੀ ਇਕ ਆਦਮੀ ਨੂੰ ਆਟਾ ਦੇਣ ਲੱਗੇ ਤਾਂ 12 ਤਕ ਤਾਂ ਸੰਖਿਆ ਠੀਕ ਰੱਖੀ ਅਤੇ 13 ਤੇ ਪਹੁੰਚਤੇ ਹੀ ਤੇਰਾ -ਤੇਰਾ ਕਹਿ ਕੇ ਸਾਰਾ ਆਟਾ ਤੋਲ ਦਿੱਤਾ। ਇਸਦੀ ਸ਼ਿਕਾਇਤ ਲੋਦੀ ਤਕ ਗਈ ਤਾਂ ਜਾਂਚ ਵਿਚ ਹਿਸਾਬ -ਕਿਤਾਬ ਬਿਲਕੁਲ ਠੀਕ ਸੀ। ਗੁਰੂ ਸਾਹਿਬ ਨੇ ਚਾਰ ਉਦਾਸੀਆਂ ਕੀਤੀਆਂ ਇਹਨਾਂ ਉਦਾਸੀਆਂ ਵਿਚ ਗੁਰੂ ਜੀ ਨੇ ਬਹੁਤ ਸਾਰੇ ਲੋਕਾਂ ਨੂੰ ਸਿੱਧੇ ਰਾਸਤੇ ਪਾਇਆ। ਇਸ ਦੌਰਾਨ ਆਪਣੇ 1512 ਵਿਚ ਕਰਤਾਰਪੁਰ ਵਸਾਇਆ। ਗੁਰੂ ਜੀ ਬਹੁਤ ਨਿਡਰ ਸਨ 1521 ਵਿਚ ਬਾਬਰ ਦੁਅਰਾ ਭਾਰਤ ਤੇ ਕੀਤੇ ਹਮਲੇ ਦਾ ਸਖ਼ਤ ਵਿਰੋਧ ਕੀਤਾ ਅਤੇ ਇਸਦੀ ਨਿੰਦਾ ਕੀਤੀ। ਗੁਰੂ ਜੀ ਨੇ ਆਪਣਾ ਅੰਤਿਮ ਸਮਾਂ ਕਰਤਾਰਪੁਰ ਵਿਚ ਵਸਾਇਆ ਇਥੇ ਹੀ ਭਾਈ ਲਹਿਣਾ ਜੀ ਨੂੰ ਆਪਣੀ ਗੱਦੀ ਦਾ ਵਾਰਿਸ਼ ਚੁਣਿਆ। ਅੰਤ 22 ਸਤੰਬਰ 1539 ਵਿਚ ਆਪ ਜਯੋਤੀ -ਜੋਤ ਸਮਾ ਗਏ।. यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. Language plays an important role in the progress of nations. The nature of language brings us to the nature of human thought and action, for language is neither more nor less than both these aspects of human nature. Khaana, peena te sona ta asi saari jooniyan wich karde haan.

Next

श्री गुरु नानक देव जी के 30 अनमोल वचन

about guru nanak dev in hindi

Photo Credits: File Image Guru Nanak Dev Ji Jayanti or Guru Nanak Gurpurab is being celebrated today on November 23, 2018. It is widely spoken and taught around the world. Language diversity is an important topic for all South Africans to consider since we have 11 official languages. Apart from this, many great leaders like, Rani Laxmi Bai, Bhagat Singh, Mahatama Gandhi, Subhash Chandra Bose and Jawahar Lai Nehru were also born in India. The flamingos fly hundreds of miles, leaving their young ones behind. Please Note :- अगर आपको हमारे Shree Guru Nanak Dev Ji Thoughts In Hindi अच्छे लगे तो जरुर हमें Facebook और Whatsapp Status पर Share कीजिये.


Next

गुरु नानक देव जी की कहानी Guru Nanak Dev Ji Stories in Hindi

about guru nanak dev in hindi

From His brilliancy everything is illuminated. Two days prior to the festival, people read the holy book of Sikhs, Guru Granth Sahib, non-stop for 48 hours. From His brilliancy everything is illuminated. पेड़, पौधे सभी उसीके अंदर और बाहर होते है. In China, many people are learning English as their second language. For starters, communication is important because. In Hindi: मैं लगातार उसके चरणों को नमन करता हूँ, और उससे प्रार्थना करता हूं.

Next

Shree Guru Nanak Dev Ji Quotes in Hindi with Images

about guru nanak dev in hindi

In Hindi: हर एक व्यक्ति के लिए, हमारे स्वामी और मालिक जीविका प्रदान करते हैं. नानक देव जी का विवाह सौलह वर्ष की उम्र सुलक्षणा देवी के साथ हुआ था. This poster will be shown right across the country to students preparing to take an exam. Have you ever thought of this in your mind? Sikhs believe Guru Nanak Dev Ji brought enlightenment to the world. Shree Guru Nanak Dev श्री गुरु नानक देव Quote 8: I am not the born; how can there be either birth or death for me? Buddhism, Hindi, Hindu 2230 Words 5 Pages India is a land of great diversity.

Next

Guru Nanak Dev Ji Essay in Punjabi : ਗੁਰੂ ਨਾਨਕ ਦੇਵ ਜੀ ਤੇ ਲੇਖ ਰਚਨਾ

about guru nanak dev in hindi

Guru Nanak Stories Hindi Guru Nanak Dev ji Sakhi Hindi गुरु नानक देव जी की बगदाद की कहानी Guru nanak dev Ji Baghdad story In Hindi Guru Nanak in Baghdad Guru Nanak Dev ji Sakhi Hindi गुरु नानक देव जी मक्का , मदीना से होते हुए बगदाद पहुचे वहा पर उन्होंने मुसलमानों का यह भ्रम तोडा की संगीत हराम होता है और खुदा की बंदगी मे संगीत का कोई स्थान नहीं होना चाहिए शहर के बाहर गुरु जी ने एक स्थान पर बैठ कर खुदा का कीर्तन गीत गाने शुरू कर दिए और उन्हें सुनने के लिए वहा के कई स्थानीय निवासी आने लगे यह बात जब उस शहर के बड़े मोलाना और काजियो के पास पहुची तो वह अपने साथियों के साथ वहा पर आ पहुचे क्योकि वह नहीं चाहते थे की उनके मुसलमान शहर मे कोई खुदा की बंदगी गाना गा कर करे वह इन चीजों को हराम मानते थे वह उस जगह पर आ पहुचे और उनके हाथो मे पत्थर और डंडे थे पर उनके पत्थर और डंडे उनके हाथो से वही गिर गए जब उन्होंने गुरु नानक देव जी की मधुर आवाज मे खुदा की बंदगी सुनी गुरु जी के चेहरे पर इतना तेज और निर्भयता देख वह खड़े के खड़े रह गए , अब सब लोग गुरु जी के पास बैठकर उनके कीर्तन गीतों को सुनने लगे और झुमने लगे , उन्हें ऐसा प्रतीत हो रहा था की जैसे खुदा साक्षात् उनके सामने बैठ कर खुद के ही भजन गा रहा है यहाँ पर गुरु जी की पीर दसत गीर और शेख बेहलोन के साथ धरम चर्चा हुई गुरु जी ने उन्हें ज्ञान दिया की अगर संगीत का उस खुदा की बंदगी मे सही ढंग से प्रयोग किया जाये तो वह हराम नहीं मना जायेगा और इसी जगह पर बैठ कर गुरु जी ने कहा था की हम यहाँ अकेले नहीं है हमारे जेसे अनेको गृह आकाश पताल और ब्रमांड मोजूद है जो उस खुदा ने बनाये है , गुरु जी ने बगदाद के लोगो को यह ज्ञान का पाठ पढाया हक़ की कमाई गुरु नानक देव जी की कहानी Haq Di Kamai Story In Hindi Guru Nanak Dev ji Sakhi Hindi Haq Di Kamai Guru Nanak Dev ji Sakhi Hindi गुरु नानक देव जी भाई मरदाना जी के साथ सैद पुर पहुचते है वहा पहुचकर वह भाई लालो जी के घर जाते है भाई लालो जी एक कारपेंटर था वह बहुत गरीब व्यक्ति था पर वह गुरु जी से बहुत अधिक प्यार व लगाव रखता था भाई लालो जी ने उनका अच्छे से आदर सत्कार कर गुरु जी को बिठाया और आराम करने को कहा थोड़े समय बाद उन्होंने गुरु जी को खाना खिलाया , वेसे तो वह खाना बहुत साधारण सा था क्योकि भाई लालो बहुत गरीब था उसके पास इतने पेसे नहीं थे की वह गुरु जी को मीठे पकवान खिला सके ,पर फिर भी गुरु नानक देव और भाई मरदाना जी को वह खाना किसी शाही पकवानों से कम नहीं लगा उन्होंने बड़े प्यार से उस खाने को खाया , Guru Nanak Dev Ji All Stories In Hindi Sri Guru Nanak Dev ji Sakhi Hindi Guru Nanak Dev Ji Story Haq Di Kamai In Hindi भाई लालो के कहने पर गुरु जी कुछ दिन भाई लालो के पास ही रुक गए ,और हर रोज वह सदारण खाना बड़े चाव से खाते , उसी शहर मे एक बहुत बड़ा सेठ जिसका नाम मलिक भागो था वह भी रहता था जब उसे पता चला की गुरुनानक देव जी यहाँ पधारे हुए है तो उसने गुरु जी के पास संदेसा भेजा और उनकी सेवा करने मौका माँगा गुरु नानक देव जी ने मलिक सेठ के इस न्योते को ठुकरा दिया , कुछ दिनों बाद फिर से मलिक ने गुरु जी के पास नियोता भेजा और उनसे आग्रह किया की वह एक बार जरुर आये Guru Nanak Dev Ji Story Haq Di Kamai Ki Kahani पर इस बार भी गुरु जी ने उस न्योते को ठुकरा दिया , उसके 2 दिन बाद मलिक ने अपने घर पर एक दावत रखी जिसमे उसने शहर के बड़े बड़े विदानो सेठो और पंडितो को खाने पर बुलाया और इस बार वह खुद गुरु जी के पास आया और उन्हें अपने साथ चलने का आग्रह किया गुरु जी ने कहा ठीक है उन्होंने भाई मरदाना और भाई लालो को भी अपने साथ ले लिया और भाई लालो से कहा की अपने साथ खाना ले लो हम वहा जाकर यह खाना ही खायेगे भाई लालो उनकी इस बात पर बहुत हैरान तो हुए पर गुरु का हुक्म था वह पीछे कैसे हट सकते थे गुरु जी जब मलिक भगो के घर पहुच गए और अब उनके सामने अनेक प्रकार के भोजन परोस दिए गए और गुरु जी के आस पास कुछ अन्य पुजारी पंडित लोग भी थे जिन्हें सेठ मलिक ने उनकी मेहमान नवाजी के लिए उन्हें वहा बुलवाया हुआ था गुरु जी कहते है की मे यह खाना नहीं खा सकता हु क्योकि यह खाना गरीबो का खून पसीना चूस कर उन पैसो से लिया गया है यह खाना हक की कमाई का नहीं है , Guru Nanak Dev Ji Ki kahani, Guru Nanak Dev Ji Ki kahaniya गुरु जी की इन बातो को सुनकर सबने अपने हाथ खाने के लिए रोक दिए यह देख सेठ मालिक ने कहा की हे गुरु नानक यह आप कैसे कह सकते है यह खाना मेरी हक की कमाई का ही है , इतना सुनते ही भाई गुरु नानक देव जी ने भाई लालो की एक रोटी उठाई और दुसरे हाथ मे सेठ मलिक के मीठे पेडे उठाये और अपने दोनों हाथो की मुठियो को दबाया , वह नजारा देख कर सब हैरान रह गए. Shree Guru Nanak Dev श्री गुरु नानक देव Quote 6: Even Kings and emperors with heaps of wealth and vast dominion cannot compare with an ant filled with the love of God. बिना गुरु के कोई भी दुसरे किनारे तक नहीं जा सकता है. I am neither a child, a young man, nor an ancient; nor am I of any caste. The Khatri community traces its origins to the Taxila, Potohar and Majha regions of the Punjab.

Next

Guru Nanak Dev Biography in Hindi

about guru nanak dev in hindi

एक तरफ गुरूजी के पास पानी की धारा फूट पढ़ी थी वही दूसरी तरफ उसके कुएं का पानी लगातार सूखता जा रहा था। उसे समझ नहीं आया कि अचानक ये क्या चमत्कार हो रहा है? The Gurpurab celebrations are held with great enthusiasm and zeal at Golden Temple, Amritsar. . Shree Guru Nanak Dev श्री गुरु नानक देव Quote 26: I bow at His Feet constantly, and pray to Him, the Guru, the True Guru, has shown me the Way. In Hindi: धन-समृद्धि से युक्त बड़े बड़े राज्यों के राजा-महाराजों की तुलना भी उस चींटी से नहीं की जा सकती है जिसमे में ईश्वर का प्रेम भरा हो. His elder brother Chetan Anand is credited to bringing him and younger brother Vijay Anand into the film world. In 1984 he demonstrates how language can be used to control thought and manipulate the past.

Next

Guru Nanak Dev Biography in Hindi

about guru nanak dev in hindi

Shree Guru Nanak Dev श्री गुरु नानक देव Quote 12: He who has no faith in himself can never have faith in God. The Guru Granth Sahib, also known as the Adi Granth, consists of 1430 pages and has 5864 verses. The evidence of this is emphasized by David Crystal in his second edition of his book - English as a global language. Guru Ji's original name was Tyal Mal Master of Detachment. किरत करो — गृहस्थ ईमानदार की तरह रोजगार में लगे रहो 3. The term gurpurb is applied to anniversary when Sikh guru is remembered Kalsi 94. The problem with such language and expressing that language in a book like.

Next

Guru Nanak Dev ji ke Updesh in Hindi

about guru nanak dev in hindi

In Hindi: नानक, पूरी दुनिया संकट में है. Language diversity also influences important issues such as education, Government and adoption. An individual hymn is a shabad. English language, English-language education, French language 1132 Words 4 Pages Intermediate: Aggregate 81% C. These people are looked down on from the rest of society for just being themselves and doing only what they know to do. नानक देव जी के पिता का नाम कल्यानचंद मेहता कालू और माता का नाम तृप्ता देवी है.


Next